International Journal of Humanities and Social Science Research

International Journal of Humanities and Social Science Research


International Journal of Humanities and Social Science Research
International Journal of Humanities and Social Science Research
Vol. 8, Issue 4 (2022)

कृषि उपज मण्डी समितियों का कृषकों के आर्थिक विकास में योगदान-मण्डला जिला के विषेष संदर्भ में


राज कुमार सोनवानी

भारतीय अर्थव्यवस्था में कृषि को अधिक उन्नत और विकसित रूप में देखना है तो यह आवश्यक है कि किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य प्राप्त हो सके तभी वे अधिक मात्रा में कृषि उपज का उत्पादन करने और कृषि की उन्नत स्थिति को प्राप्त करने में सफलता प्राप्त करेंगे। किसानों को उनके कृषि उपज का उचित मूल्य तभी प्राप्त होगा जबकि एक कुषल कृषि विपणन प्रणाली विद्यमान हो। इसके लिए यह आवष्यक है कि कृषि उपज मण्डी समितियों का विकास किया जाए एवं उनमें व्याप्त कुरूतियों, गैर कानूनी कटौतियों को समाप्त कर कृषि विपणन को सुविधाजनक बनाया जाये।
Download  |  Pages : 39-42
How to cite this article:
राज कुमार सोनवानी. कृषि उपज मण्डी समितियों का कृषकों के आर्थिक विकास में योगदान-मण्डला जिला के विषेष संदर्भ में. International Journal of Humanities and Social Science Research, Volume 8, Issue 4, 2022, Pages 39-42
International Journal of Humanities and Social Science Research International Journal of Humanities and Social Science Research